CBSE Board Exam 2020-21: बोर्ड परीक्षाएं टाले जाने के पक्ष नें नहीं है दिल्ली के स्कूल, बताई ये वजह

नईदिल्ली[रीतिकामिश्रा]।कोरोनामहामारीकेचलतेसभीस्कूललंबेसमयसेबंदहैं।पढ़ाईभीऑनलाइनमाध्यमसेहोरहीहै।दिल्लीसरकारकेशिक्षानिदेशालयनेकोरोनामहामारीकेचलतेसत्र2020-21कीबोर्डपरीक्षाओंकोमईमाहमेंआयोजितकरानेकोलेकरपत्रलिखाथा।जिसकेबादसीबीएसईनेराजधानीकेप्रधानाचार्योंसेबोर्डपरीक्षाएंटालेजानेकोलेकररायमांगीथी।सीबीएसईसेमांगीगईरायकोलेकरदिल्लीसहोदयस्कूलकॉम्पेल्क्सनेभीकईनिजीस्कूलोंकेप्रधानाचार्योंपरसर्वेकराया।सर्वेमेंयहीबातपूछीगईकिबोर्डपरीक्षाएंकबआयोजितकराईजानीचाहिए।करीब100स्कूलोंमेंहुएइससर्वेमेंयहीबातनिकलकरआयीकीराजधानीकेस्कूलसीबीएसईकीबोर्डपरीक्षाऔरआगेटालेजानेकेपक्षमेंनहींहैं।

प्रधानाचार्योंकेमुताबिकबोर्डपरीक्षाओंकोस्थगितकरनाउचितनहींहोगा।इससेउच्चशिक्षाकीप्रवेशपरीक्षाओंऔरप्रवेशप्रक्रियाकाकार्यक्रमभीप्रभावितहोगाऔरछात्रोंकोभीपरेशानीकासामनाकरनापड़ेगा।वहीं,निदेशालयनेपत्रमेंपाठ्यक्रमकोघटानेकीबातभीलिखीथी।जिसपरप्रधानाचार्योंकाकहनाहैकिपाठ्यक्रममेंपहलेही30फीसदकीकटौतीहोगईहै।अबऔरपाठ्यक्रमघटानेकीजरूरतनहींक्योंकिजितनीकटौतीकरनीथीवोकीजाचुकीहै।

शालीमारबागकेमॉडर्नपब्लिकस्कूलकीप्रधानाचार्याअलकाकपूरनेबतायाकिबोर्डपरीक्षाओंकोज्यादासेज्यादा15मार्चतकटालाजानाचाहिए।इससेआगेअगरटालाजाताहैतोबच्चोंकीउच्चशिक्षाप्रवेशपरीक्षाएंप्रभावितहोंगी।हांपरीक्षाकेबीचमेंछात्रोंकोतीनसेचारदिनकाअवकाशमिलनाचाहिए।इसकेसाथहीजहांतकपाठ्यक्रमकोघटानेकीबातहैतोमैंइसकेपक्षमेंनहींहूं।पाठ्यक्रममेंकटौतीकरनाकिसीभीसूरतसेसहीनहींहै।इसकेसाथहीप्रायोगिकपरीक्षाओंकोऑनलाइनआयोजितकरानाभीसहीनहींहै।इससेबेहतरहैकिबच्चोंकेछोटे-छोटेसमूहकोस्कूलबुलानाचाहिएऔरपरीक्षाएंकराईजानीचाहिए।

मानवस्थलीस्कूलकीप्रधानाचार्याममतावीभटनागरनेकहनाहैकिपरीक्षाटालेजानेसेउच्चशिक्षाकीप्रवेशपरीक्षाएंप्रभावितहोंगी।क्योंकिप्रवेशपरीक्षाओंकेलिएसीबीएसईबोर्डपरिणामपरस्परजुड़ेहुएहैं।बच्चोंकोज्यादातरपाठ्यक्रमऑनलाइनमाध्यमहीपढ़ादियागयाहै।ऐसेमेंअबअगरकोरोनामहामारीकेचलतेबोर्डपरीक्षाएंटालीभीजानीचाहिएतोज्यादासेज्यादाअप्रैलकेपहलेसप्ताहतक।तबतकअगरवैक्सीननहींआतीहैतोकोरोनाकेसभीनियमोंकापालनकरनेकेलिएपरीक्षाकेंद्रोंकीसंख्याबढ़ाकरपरीक्षाकराईजानीचाहिए।

वहींमाउंटआबूपब्लिकस्कूल,रोहिणीकीप्रधानाचार्याज्योतिअरोड़ानेबतायाकिबोर्डकेसभीछात्रोंकापाठ्यक्रमलगभगपूराहोनेवालाहै।ऐसेमेंबोर्डपरीक्षाओंकोटालाजानाउचितनहींहोगा।क्योंकिइससेउनकीउच्चशिक्षापरभीप्रभावपढ़ेगा।अगरकोरोनाकेमामलेंअगलेसालमार्चमाहमेंभीसामनेआतेहैंतोकोरोनाकेसभीनियमोंकापालनकरतेहुएऔरपरीक्षाकेंद्रोंकीसंख्याकोबढ़ातेहुएपरीक्षाएंआयोजितकरालीजानीचाहिए।मेरेहिसाबसे20मार्चतकटालनासहीरहेगा,उसकेबादनहीं।

जिंदलपब्लिकस्कूल,द्वारकाकेप्रिंसिपलउत्तमसिंहनेकहाकिबोर्डपरीक्षाकोआगेटालनेकाफैसलाबच्चोंकीमेहनतकोमिट्टीमेंमिलासकताहै।इसलिएमहामारीकोएककारणबनाकरबच्चोंकेभविष्यकेसाथखिलवाड़करनासहीनहींहोगा।सभीबच्चेंसालभरइसकेलिएमेहनतकरतेहैंताकिसहीसमयपरउच्चशिक्षाकेलिएप्रवेशपरीक्षादेसकें।

कईछात्रोंनेतोबाहरीदेशजाकरउच्चशिक्षाहासिलकरनेकाविचारकियाहोगा।ऐसेमेंबोर्डपरीक्षाकेटलनेसेउनकेसपनोंपरपानीफिरजाएगी।

Coronavirus:निश्चिंतरहेंपूरीतरहसुरक्षितहैआपकाअखबार,पढ़ें-विशेषज्ञोंकीरायवदेखें-वीडियो