बुंदेली महिला किसानों के लिए प्रेरणा बनीं कमलेश

जागरणसंवाददाता,बांदा:महिलाएंपुरुषोंसेकिसीभीक्षेत्रमेंपीछेनहींहैं,वहचाहेव्यवसायहोयाफिरकिसानी।डिगवाहीगांवकीमहिलाकिसानकमलेशइसकीमिसालहैं।उन्होंनेखेतीकेक्षेत्रमेंमहारतहीनहींहासिलकी,बल्किअन्यमहिलाकिसानोंकोभीप्रेरितकियाऔरखुशहालीकीराहदिखाई।वहजैविकसब्जीवधानकीफसलकारिकार्डउत्पादनकररहीहैं।कईपुरस्कारहासिलकरचुकीहैं।

बड़ोखरखुर्दब्लाककेडिगवाहीगांवकावैसेतोबेहदपिछड़ाक्षेत्रमेंशुमारहै।लेकिनयहांज्यादातरराजपूतबिरादरीकेलोगहैं।यहबेहदमेहनतकशहोतेहैं।खासकरमहिलाएंघरकीचौखटकेअलावाभीखेतीकाभीकार्यबखूबीसंभालतीहैं।इसीगांवकीकमलेशराजपूतप्रगतिशीलकिसानोंमेंशुमारहैं।कमलेशकेअंदरजज्बेकीकमीनहींहैं।चारवर्षपूर्वउन्होंनेअपनेपरिवारकोखुशहालबनानेकेलिएबीड़ाउठाया।वहराष्ट्रीयग्रामीणआजीविकामिशनसेजुड़ींऔरयोजनाओंकेमाध्यमसेखेती-किसानीकोधारदी।जैविकखेतीकीशुरुआतकी।खेतमेंहरमौसमकीसब्जीऔरखासकरधानकीफसलकोवरीयतादी।उन्होंनेखेतीसेरिकार्डउत्पादनकिया।दसबीघेखेतमेंउन्होंनेएकीकृतफसलतैयारकरमुनाफेकीराहतैयारकी।दुर्गामहिलासमूहकोभीउन्होंनेसशक्तबनाया।इससेजुड़ीदसमहिलाओंकोभीजैविकउन्नतिशीलखेतीकीप्रेरणादी।साथहीवहआसपासकेकतरावल,कुरौली,भरखरी,रेउनाआदिगांवोंकेभीमहिलाओंकोसमूहसेजोड़ाऔरउनकेतरक्कीकीराहतप्रशस्तिकी।इससेखुशहोकरमुख्यमंत्रीयोगीआदित्यनाथनेपिछलेवर्षगोशालातिदवारीनिरीक्षणकेसमयइन्हेंबोलेरोकीचाबीऔरप्रशस्तिपत्रदियाथा।अबतकवह200महिलाओंकोखुशहालबनाचुकीहैं।उनकेबैंकोंसेलेकरहरकार्यकरवानेमेंवहआगेरहतीहैं।उनकेपतिगिरीशकुमारभीउनकाहरकदमपरसाथदेतेहैं।कमलेशमहिलाओंकोजैविकखेतीकेअलावाभैंस,मुर्गीपालनकेसाथदुकानखुलवाकररोजगारसेजोड़रहीहैं।

ठानलेंतोकुछभीनामुमकिननहीं

-महिलाएंठानलेंतोकुछनामुमकिननहींहै।उन्होंनेघरकीचौखटसेनिकलकरतरक्कीकीराहखुदतैयारकी।मैंसभीग्रामीणमहिलाओंकोइसकेलिएप्रेरितकरतीहूं।ताकिवहअभावग्रस्तजिदगीसेनिकलकरखुशहालहों।

-कमलेशप्रजापति,अध्यक्ष,दुर्गामहिलासमूह,डिगवाही

-महिलाकिसानकमलेशकेअंदरजज्बाहै।वहसंकल्पकोपूराकरनेमेंपीछेनहींहटतीं।खुदकीमेहनतसेउन्होंनेजैविकखेतीकोइसमुकामतकपहुंचाहै,जिसकेलिएवहप्रेरणास्त्रोतबनीहैं।

-कृष्णकरुणाकरपांडेय,उपायुक्त,एनआरएलएम