बर्बाद कपास के मुआवजे की मांग, डीसी से मिले गोपालवास के किसान

जागरणसंवाददाता,चरखीदादरी:मौजूदाखरीफसीजनमेंरोगों,कीटोंवजलभरावकेकारणजिलेकेकाफीक्षेत्रमेंकपासकीफसलबर्बादहोचुकीहै।जिससेकिसानोंकोआर्थिकनुकसानउठानापड़ेगा।इसीकेचलतेकिसानोंद्वाराबर्बादहुईफसलोंकेमुआवजेकीमांगजोरपकड़तीजारहीहै।वीरवारकोगांवगोपालवासकेकिसानदादरीलघुसचिवालयपहुंचेजहांउन्होंनेजिलाउपायुक्तशिवप्रसादकोज्ञापनसौंपा।जिसकेमाध्यमसेकिसानोंनेबीमाकंपनीद्वारासर्वेकरवाकरमुआवजेकीमांगकीहै।उल्लेखनीयहैकिकपासकीफसललगातारखराबहोतीजारहीहै।अबतककरीब90फीसदफसलसफेदमक्खी,जलभराववदूसरेरोगोंकीभेंटचढ़चुकीहै।गांवगोपालवासनिवासीकिसानखजानसिंह,प्रदीप,बिजेंद्र,राजकुमार,ओमप्रकाश,विजयपाल,रामेहर,बलजीत,रामकुमारइत्यादिनेकहाकिउन्होंनेअपनेखेतोंमेंकपासकीफसललगाईथीलेकिनसफेदमक्खी,जलभरावकेकारणउनकीफसलबर्बादहोगईहै।उन्होंनेकहाकिअधिकतरकपासउत्पादककिसानोंने1650रुपयेप्रतिएकड़कीप्रीमियमराशिकावहनकरप्रधानमंत्रीफसलबीमायोजनाकेतहतअपनीफसलोंकाबीमाकरवारखाहै।उन्होंनेउपायुक्तसेमांगकीहैकिबीमाकंपनीद्वाराजल्दसर्वेकरवाकरमुआवजाराशिदिलवाईजाए।

450एकड़मेंफसलनष्ट

गांवगोपालवासकेकिसानोंनेकहाकिउनकेगांवमेंकरीब1550एकड़जमीनहै।जिसमेंसेलगभग500एकड़मेंकिसानोंनेकपासवबाकीमेंदूसरीफसलेंलगारखीहैं।उन्होंनेकहाकि500मेंसेकरीब450एकड़कीफसलपूरीतरहसेबर्बादहोचुकीहैं।

नहींहोरहीसुनवाई

किसानोंनेकहाकिफसलखराबहोनेसेवेपहलेहीपरेशानहैं।इसकेबावजूदवेमुआवजेकीमांगकोलेकरकार्यालयोंकेचक्करलगारहेहैं।उन्होंनेकहाकिबीतेचारसितंबरकोफसलखराबहोनेपरयोजनाकेतहतबीमाराशिकाक्लेमकरनेकेलिएवेबाढड़ाकृषिविभागकार्यालयपहुंचेथे।लेकिनवहांपरउनकेफार्महीस्वीकारनहींकिएगए।जिसकेबादउन्होंनेबाढड़ाएसडीएमकोज्ञापनसौंपाथा।किसानोंकाकहनाहैकिवीरवारकोवेदादरीकृषिविभागकार्यालयमेंफार्मजमाकरवानेपहुंचेथे।लेकिनवहांभीउन्हेंकोईसंतोषजनकजबावनहींमिला।