भाजपा राज में भूल जाएं बेरोजगारी भत्ता

राज्यब्यूरो,धर्मशाला:भाजपासरकारनेमनबनालियाहैकिबेरोजगारीभत्तायोजनाकोखत्मकियाजाएताकियुवापीढ़ीकोनिठलाहोनेसेबचायाजासके।फिलहालबेरोजगारीभत्तायोजनाकेसंदर्भमेंपिछलीसरकारकीकारगुजारियोंकोखंगालाजारहाहै।भत्तादेनाबेरोजगारोंकेसाथमजाकथा।कांग्रेसनेबेरोजगारीभत्तादेनेकेनामपरप्रदेशकीजनतासेमजाककियाहै।प्रशिक्षितबेरोजगारोंमेंयहभत्तालेनेकेलिएकिसीप्रकारकाउत्साहनजरनहींआया।पिछलेनौमाहकेदौरानप्रदेशकेदसलाखबेरोजगारोंमेंसेमुट्ठीभरयुवाओंनेभत्तालेनेकेलिएआवेदनकिया।मुख्यमंत्रीजयरामठाकुरनेसाफकियाहैकिप्रदेशसरकारबेरोजगारीभत्तायोजनावापसलेनेपरविचारकररहीहैक्योंकिइसयोजनाकीउपयोगितासाबितनहींहोपाईहै।कांग्रेसनेसत्तामेंआनेकेलिएबेरोजगारोंकोभत्तादेनेकालालचदियाथा।उसकेबादजैसेहीसत्ताप्राप्तहोगई,कौशलप्रशिक्षणयोजनाशुरूकरदी।विधानसभाचुनावमेंकिएगएवादेकोदेखतेहुएअप्रैल2017मेंयहयोजनाशुरूकीगई।कांग्रेसकामकसदयुवाओंकोलाभान्वितकरनानहींबल्किराजनीतिकरनाथा।यहसत्यहैकिसभीबेरोजगारोंकोसरकारीक्षेत्रमेंनौकरियांनहींमिलसकतीहैं।सरकारनिजीक्षेत्रमेंरोजगारदेनेपरध्यानकेंद्रितकरेगी।इसकेसाथ-साथस्वरोजगारकोबढ़ावादियाजाएगा।

रोजगारकार्यालयोंमेंदसलाखबेरोजगारोंकेनामपंजीकृतहैंलेकिनपूर्वकांग्रेससरकारमें19,300बेरोजगारोंकोहीभत्तामिलपाया।इससेपताचलताहैकिनियमोंकेफेरमेंफंसीयहयोजनायुवाओंकोपसंदनहींआई।कांग्रेससरकारनेकौशलप्रशिक्षणभत्तायोजनाशुरूकी।केंद्रसरकारसे500करोड़रुपयेकाबजटमिलालेकिनचारसालमेंकेवलदोलाखयुवाओंकोहीप्रशिक्षणमिलसका।