बैक पेपर परीक्षा में एमएससी के जांच पत्र नहीं आए

जागरणसंवाददाता,फर्रुखाबाद:छत्रपतिशाहूजीमहाराजविश्वविद्यालयकीबैकपेपरपरीक्षामेंतमामविसंगतियोंकेचलतेवरिष्ठकेंद्राध्यक्षवशिक्षकतीनोंपालियोंमेंजूझतेरहे।एक-एकपालीमेंविभिन्नकक्षाओंवविषयोंके50सेअधिकप्रश्नपत्रोंकीपरीक्षाहुई।प्रश्नपत्रवारछात्रसंख्याभीविश्वविद्यालयनेनहींभेजी।एमएससीकृषिपरीक्षार्थियोंकेफोटोयुक्तजांचपत्रभीनहींआए।परीक्षानियंत्रककेनिर्देशपरबी.लिबकेपरीक्षार्थियोंकोएकप्रश्नपत्रमेंकिताबलेकरपरीक्षाकीअनुमतिदीगई।

बैकपेपरपरीक्षागुरुवारकोआरपीमहाविद्यालयकमालगंजवएनएकेपीमहाविद्यालयफर्रुखाबादमेंशुरूहुई।आरपीकॉलेजमेंएमएससीएग्रीकल्चरद्वितीयवर्षकेछात्रोंकेजांचपत्रनहींआए।छात्रोंकेप्रवेशपत्रदेखकरपरीक्षामेंबैठायागया।एकअलगकागजकोजांचपत्रबनाकरछात्रउपस्थितिकोउनसेहस्ताक्षरलिएगए।बी.लिबकेएकपेपरमेंछात्रोंनेवरिष्ठकेंद्राध्यक्षडा.बलवीर¨सहसेकहाकिउन्हेंकिताबलेकरपरीक्षादेनेकीअनुमतिमिलतीहै।इसपरकेंद्राध्यक्षनेविश्वविद्यालयकेपरीक्षानियंत्रकसेफोनपरबातकी।नियंत्रकनेअपनेवरिष्ठोंसेजानकारीलेकरकेंद्राध्यक्षकोपुस्तकसहितछात्रोंकोपरीक्षामेंबैठानेकीअनुमतिदी।प्रश्नपत्रवारछात्रसंख्यानआनेसेकेंद्राध्यक्षवपरीक्षाव्यवस्थाटीमकेशिक्षकपेपरवारअनुपस्थितिकागणितलगानेकोपरेशानरहे।डा.एसआर¨सह,डा.सीपी¨सह,डा.एपीचौरसियावकरुणेशपांडेयआदिव्यवस्थामेंरहे।छहसिपाहियोंकीसुरक्षामेंबंदीनेदीपरीक्षा

आरपीमहाविद्यालयपरीक्षाकेंद्रपरमैनपुरीजेलसेएकबंदीभीपरीक्षादेनेआया।उसकीसुरक्षामेंछहपुलिसकर्मीभीसाथआए।कक्षमेंबैठेअन्यपरीक्षार्थीपुलिसकर्मियोंसेघिरेछात्रकोकौतूहलसेदेखतेरहे।नियमितशिक्षकोंकीकमीसेकेंद्राध्यक्षपरेशान

एनएकेपीमहाविद्यालयमें1200छात्राओंकाबैकपेपरपरीक्षाकेंद्ररखागया।यहांप्राचार्यसहितनियमितशिक्षिकाएंहीहैं।ऐसेमेंइतनेअधिकपरीक्षार्थियोंकाबैकपेपरकरानेकेलिएशिक्षिकाओंकोकड़ीमशक्कतकरनीपड़ी।प्राचार्यडा.शशिकिरण¨सहनेबतायाकिशामतकप्रपत्रतैयारनहींकिएजासके।