अजय मिश्रा को इस्तीफा देना होगा, जेल जाना पड़ेगा: राहुल गांधी

नयीदिल्ली,15दिसंबर(भाषा)कांग्रेसकेपूर्वअध्यक्षराहुलगांधीनेलखीमपुर-खीरीहिंसामामलेमेंविशेषजांचदल(एसआईटी)कीओरसेअदालतमेंदिएगएआवेदनकीपृष्ठभूमिमेंबुधवारकोप्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीपरनिशानासाधाऔरकहाकिगृहराज्यमंत्रीअजयमिश्राकोइस्तीफादेनापड़ेगातथाजेलभीजानाहोगा।उन्होंनेयहभीकहाकिएकतरफतोप्रधानमंत्रीकिसानोंसेमाफीमांगतेहैंऔरदूसरीतरफवहएकऐसेव्यक्तिकोमंत्रीबनाएहुएहैंजिसने‘किसानोंकोमाराहै।’लखीमपुर-खीरीहिंसामामलेसेजुड़ेएसआईटीकेआवेदनकोलेकरबुधवारकोलोकसभामेंविपक्षीसदस्योंकेहंगामेकेचलतेसदनकीकार्यवाहीएकबारकेस्थगनकेबाददिनभरलिएस्थगितकरदीगई।राहुलगांधीनेलखीमपुर-खीरीमामलेपरबुधवारकोलोकसभामेंकार्यस्थगनकानोटिसदियाथा।नोटिसमेंउन्होंनेसदनमेंनियतकामकाजस्थगितकरनेकीमांगकीथीऔरकहाथाकिएसआईटीरिपोर्टकोलेकरसदनमेंचर्चाहोनीचाहिए।सदनकीकार्यवाहीस्थगितहोनेकेबादराहुलगांधीनेसंवाददाताओंसेबातचीतमेंदावाकिया,‘‘किसानोंकीहत्याकीगई।कहाजारहाहैकिइसमेंमंत्रीमेंशामिलहैं।वहप्रधानमंत्रीकेमंत्रिमंडलमेंहैं।प्रधानमंत्रीएकतरफकिसानोंसेमाफीमांगतेहैंऔरदूसरीतरफजानगंवानेवालेकिसानोंकेपरिवारोंकोमुआवजातकनहींदेते।उन्होंनेएकऐसेव्यक्तिकोअपनीमंत्रिपरिषदमेंरखाहैजोहत्याराहै,जिसने(किसानोंको)माराहै।’’उन्होंनेकहाकिवहइसमुद्देकोसंसदमेंउठानाचाहतेथे,लेकिनउन्हेंअनुमतिनहींदीगई।उन्होंनेभारतीयजनतापार्टी(भाजपा)केनेताऔरकेंद्रीयमंत्रीपीयूषगोयलकेइसबयानकोअतार्किककरारदियाजिसमेंउन्होंनेकहाहैकिलखीमपुरखीरीमामलेपरसंसदमेंचर्चानहींहोसकतीक्योंकियहअदालतमेंविचाराधीनहै।राहुलगांधीनेजोरदेकरकहा,‘‘हमनेकिसानोंकेपरिवारसेवादाकियाथाकिदबावडालकरन्यायदिलवाएंगे।हमनेकृषिकानूनोंकोलेकरकहाकिइनकोवापसलेनापड़ेगा,आपनेदेखाकिइनकोवापसलियागयाहै।इसीतरहमंत्रीकोभीइस्तीफादेनापड़ेगाऔरजेलजानाहोगा।हमनहींछोड़ेंगे।पांचसाल,10सालया15साललगजाएं,मंत्रीकोजेलजानाहोगा।’’उन्होंनेआरोपलगाया,‘‘सरकारहमेंबोलनेकीअनुमतिनहींदेरहीहै,इसकारणसदनमेंव्यवधानपैदाहुआहै।हमनेकहाहैकिरिपोर्टआईहैऔरउनकेमंत्रीइसमेंशामिलहैं,ऐसेमेंइसपरचर्चाहोनीचाहिए।लेकिनवहचर्चानहींहोनेदेनाचाहतेहैं।गौरतलबहैकिलखीमपुरखीरीहिंसामामलेकीजांचकररहेविशेषजांचदल(एसआईटी)नेअबतककीछानबीनऔरसाक्ष्योंकेआधारपरदावाकियाहैकिकेंद्रीयगृहराज्यमंत्रीअजयकुमारमिश्रा'टेनी'केपुत्रऔरउसकेसहयोगियोंद्वाराजानबूझकर,सुनियोजितसाजिशकेतहतघटनाकोअंजामदियागया।एसआईटीकेमुख्यजांचनिरीक्षकविद्यारामदिवाकरनेमुख्यन्यायिकमजिस्ट्रेट(सीजेएम)कीअदालतमेंदियेगयेआवेदनमेंआरोपियोंकेविरुद्धउपरोक्तआरोपोंकीधाराओंकेतहतमुकदमाचलानेकाअनुरोधकियाहै।केंद्रीयगृहराज्यमंत्रीकेपुत्रआशीषमिश्रामोनूसमेतउसके13साथियोंपरलखीमपुरखीरीमेंतीनअक्टूबरकोप्रदर्शनकररहेकिसानोंकोजीपसेकुचलनेकाआरोपहै।इसघटनामेंऔरइसकेबादभड़कीहिंसामेंचारकिसानोंसमेतआठलोगोंकीमौतहोगईथी।