अब सरकार बेचेगी बालू, ई चालान होगा लागू

जागरणसंवाददाता,आसनसोल:बालूसंकटतथाकालाबाजारीकेकारणहोरहीसमस्यासमाधानकीमांगकोलेकरमंगलवारकोपश्चिमब‌र्द्धमानजिलेमेंपश्चिमब‌र्द्धमानफेडरेशनआफट्रेडएंडइंडस्ट्रीजतथाक्रेडाईपदाधिकारियोंकाप्रतिनिधिमंडलजिलाशासकएसअरुणप्रसादसेमिला।इसदौरानविस्तारसेबालूसंकटकोलेकरचर्चाहुई।जिलाशासकनेप्रतिनिधमंडलकोआश्वस्तकियाकिजल्दहीबालूसंकटकासमाधानहोगा।अगलेसप्ताहहीसरकारनईव्यवस्थालागूकरनेजारहीहै।इसदौरानपीबीएफटीआइअध्यक्षवीकेढल्ल,महासचिवजगदीशबागड़ी,क्रेडाईकेबिनोदगुप्ता,हरिनारायणअग्रवालआदिमौजूदथे।जगदीशबागड़ीनेकहाकिडीएमनेबतायाकिअगलेसप्ताहसेईचालानव्यवस्थालागूहोगी।जिन्हेंभीबालूलेनाहै,वहसरकारकेपोर्टलपरआनलाइनभुगतानकरईचालानलेकरघाटसेबालूलेसकेंगे।वहींआनेवालेसमयमेंघाटोंसेबालूउठावकाकामअबनिजीसंस्थाकेबजायसरकारीसंस्थावेस्टबंगालमिनरलट्रेडिगडेवलपमेंटकार्पोरेशनकरेगी।बतायाजाताहैकिअवैधबालूकारोबाररोकनेकेलिएसरकारनेयहनिर्णयलियाहै।गौरतलबहैकिबालूसंकटकोलेकरसबसेपहलेपीबीएफटीआइनेहीसीएमकोपत्रलिखकरकार्रवाईकीमांगकीथी।जिलेमेंहीहजारोंलोगबेरोजगारहैं,वहींरोजानाकरोड़ोंकाकारोबारठपहै।सरकारद्वाराबालूउठावकोलेकरकोईसटीकनीतिनहोनेकेकारणविगतकईवर्षोंसेजारीसमस्यानेबीतेकुछदिनोंसेकीगईकार्रवाईकेकारणविकरालरूपलेलियाहै।वहींशिल्पांचलमेंबालूकीकालाबाजारीकीजारहीहै।दोहजाररुपयेट्रैक्टरबिकनेवालीबालूनौहजाररुपयेट्रैक्टरबिकरहीहै।