आयुष्मान योजना के पात्रों की अंगूठे से होगी पहचान, टीएमएस पोर्टल पर अपलोड किया जा रहा डाटा

जागरणसंवाददाता,करनाल:आयुष्मानभारतयोजनालाभपात्रोंकोमिलेऔरइसमेंकिसीभीप्रकारकाफर्जीवाड़ानाहोइसकेलिएसभीपात्रोंकाडाटाटीएमएस(ट्रांजेक्शनमैनेजमेंटसिस्टम)पोर्टलपरअपलोडकियाजारहाहै।इसमेंइमरजेंसीमेंआनेवालेमरीजकाभीइलाजसेपहलेअंगूठास्कैनकियाजाएगा।यदिअंगूठेकानिशानमैचनहींहोगा,तोउसेइलाजसेवंचितरहनापड़ेगा।मरीजकेअस्पतालपहुंचनेपरअंगूठेकानिशानवहांलगीबीमाकंपनीकीमशीनपरलियाजाएगा।उसकामिलानदिल्लीकेसर्वरमेंपहलेसेसुरक्षितअंगूठेकेनिशानसेकरायाजाएगा।निशानकामिलानहोनेपरफ्रीइलाजशुरूकरदियाजाएगा।आयुष्मानस्कीमकास्मार्टकार्डबनाएगएहैं।कार्डबनानेकेसाथ-साथअंगूठेवालेफार्मूलेसेइलाजशुरूकरकियाजाएगा।स्वास्थ्यविभागकेअधिकारियोंकेअनुसारआयुष्मानयोजनाकेतहतजिनपरिवारोंकोदायरेमेंलियागयाहैउनकेहरसदस्यकारिकार्डदिल्लीस्थितमुख्यालयमेंहै।इसफार्मूलेसेइलाजकरनेकेलिएस्मार्टकार्डकीजरूरतनहींहोगी।

जिलेमेंकरीब1.20लाखलाभपात्र

प्रधानमंत्रीराष्ट्रीयस्वास्थ्यसुरक्षामिशनआयुष्मानभारतयोजनाकेतहतजिलेमें1.20लाखलाभपात्रहैं।फिलहालकल्पनाचावलाराजकीयमेडिकलकॉलेजवनागरिकअस्पतालमेंआयुष्मानभारतसेंटरशुरूकियागयाहै।

रेटनिजीनर्सिगहोमकेमुकाबलेकम

गुर्देकीपथरीकीसर्जरीके25हजाररुपयेजबकिबाहरनिजीअस्पतालमेंकरीब35से40हजाररुपयेलेरहेहैं।सीएबीजीबाईपाससर्जरीके90हजाररुपयेतयकिएहैं।इसकेनिजीअस्पतालमेंफिलहालकोई1.50लाखलाखयाइससेअधिकलिएजारहेहैं।बच्चेदानीकेआपरेशनकारेट20हजारजबकिनिजीनर्सिंगहोमसर्जरीके35से40हजारलेरहेहैं।

डिप्टीसिविलसर्जनडॉ.सरोजकेमुताबिकयोजनाशुरूहोनेकेबादकोईपरेशानीनहोइसलिएसबकाडाटाऑनलाइनकरदियागयाहै।लेकिनएकजगहमरीजोंकोपरेशानीहोसकतीहै।सभीकाडाटाऑनलाइनकरदियागयाहै।