आरआबी-एनटीपीसी परीक्षा प्रक्रिया में अनियमितताओं के विरोध में छात्र संगठनों का 28 जनवरी को बिहार बंद का आह्वान

पटना,27जनवरी(भाषा)रेलवेभर्तीबोर्डकीपरीक्षाप्रक्रियामेंकथितअनियमितताओंकेविरोधमेंअखिलभारतीयछात्रसंघ(आइसा)समेतकईछात्रसंगठनोंद्वारा28जनवरीकोआहूतबिहारबंदकामहागठबंधनमेंशामिलसभीविपक्षीदलोंनेसमर्थनकियाहै।बिहारमेंविपक्षीदलोंकेमहागठबंधनमेंशामिलराजद,कांग्रेस,भाकपाएवंमाकपानेबृहस्पतिवारकोसंयुक्तरूपसेएकब्यानजारीकरकेकहा,‘‘बिहारमेंदेशमेंसबसेज्यादायुवाहैंऔरयहांबेरोजगारीकीदरसबसेज्यादाहै।केंद्रऔरबिहारसरकारद्वाराछात्रोंकोठगाजारहाहै।सरकारेंउनकेलिएनौकरियोंकावादाकरतीरहतीहैलेकिनजबवेनौकरीकीमांगकोलेकरसड़कोंपरउतरतेहैंतोनीतीशकुमारसरकारउनपरलाठियांबरसातीहै।’’महागठबंधनकेनेताओंनेराजदकेप्रदेशमुख्यालयमेंआजसंयुक्तरूपसेसंवाददाताओंकोसंबोधितकरतेहुएआरोपलगायाकिकेंद्रकीराजगसरकारकोउत्तरप्रदेशमेंहोनेवालेविधानसभाचुनावोंकीज्यादाचिंताहै,नकिप्रदर्शनकारीछात्रोंकेभविष्यकी।उन्होंनेकहाकिमहागठबंधनकेसभीदलोंने28जनवरीकोछात्रसंघद्वाराआहूतबिहारबंदकासमर्थनकरनेकाफैसलालियाहै।हमयहभीमांगकरतेहैंकिराज्यपुलिसद्वाराछात्रोंयाकोचिंगसंस्थानोंकेखिलाफदर्जसभीमामलेतुरंतवापसलिएजानेचाहिए।इसीतरहकीरायव्यक्तकरतेहुएआइसाकेमहासचिवऔरविधायकसंदीपसौरभनेकहाकिआरआरबी-एनटीपीसीपरीक्षामेंअनियमितताओंकीजांचकेलिएरेलमंत्रालयद्वारागठितसमितिउत्तरप्रदेशमेंचुनावतकमामलेकोस्थगितकरनेकीएक‘‘साजिश’’है।उन्होंनेदावाकियाकियहकेंद्रसरकारकाधोखाहै।सौरभनेआरोपलगायाकिकेंद्रसरकारबेरोजगारयुवकोंकोनौकरीनहींदेनाचाहती।इसबीचपटनाकेजिलाधिकारीचंद्रशेखरसिंहएवंवरीयपुलिसअधीक्षकमानवजीतसिंहढिल्लोंनेकोचिंगसंचालकों,प्रतिनिधियोंकेसाथसीधासंवादस्थापितकरनेतथाविधिव्यवस्थाबनायेरखनेकेसमाहरणालयसभागारमेंआजएकबैठककी।विदितहोकि24जनवरीकोराजेंद्रनगरट्रैककोजामकरनेतथाउत्पन्नविधिव्यवस्थासेनिपटनेकेदौरान4अभ्यार्थियोंकोहिरासतमेलियागयाथा।उन4अभ्यर्थियोंनेपूछताछकेदौरानपुलिसकोबतायाकिउन्हेंकोचिंगसंचालकों,प्रतिनिधियोंकेद्वारायहांपरआनेकेलिएमार्गदर्शनकियागयाहैतथाउनकानामभीबतायागया।पुलिसद्वारासोशलमीडियासेवीडियोफुटेजभीप्राप्तकिएगएहैं।उक्तकेआलोकमें6कोचिंगसंचालकों,प्रतिनिधियोंकेविरुद्धपत्रकारनगरथानेमेंप्राथमिकीदर्जकीगईहै।पूछताछकेदौरानहिरासतमेंलिएगएअभ्यर्थियोंकेद्वाराजिनव्यक्तियोंकानामलियागयातथाप्राथमिकीदर्जकीगईउनमेंखानसर,एसकेझासर,नवीनसर,अमरनाथसर,गगनप्रतापसरऔरगोपालवर्मासरशामिलहैं।जिलाप्रशासनद्वाराआजजारीएकविज्ञप्तिकेअनुसारजिनव्यक्तियोंकेविरुद्धप्राथमिकीदर्जकीगईहैउनव्यक्तियोंकोनोटिसनिर्गतकियाजाएगातथाउन्हेंनिर्धारिततिथि,स्थानएवंसमयपरअपनापक्षरखनेकामौकादियाजाएगा।जिलाधिकारीनेकहाकिकिसीभीप्रकारकीपूर्वाग्रहआधारितअथवाबदलेकीभावनासेकार्यनहींकिएजाएंगेबल्किपूरीपारदर्शिताएवंसाक्ष्यकेआधारपरहीविधिसम्मतकार्रवाईकीजाएगी।उन्होंनेकहाकिगैरकानूनीतथागैरजिम्मेदारानाकार्यकरनेवालेतथासमूहकोउग्रएवंहिंसात्मकस्वरूपदेतेहुएआंदोलनकेलिएप्रेरितकरनेवालेअसामाजिकतत्वोंकोचिन्हितकरउनकेविरुद्धविधिसम्मतकड़ीकार्रवाईकीजाएगी।राज्यसभासदस्यसुशीलकुमारमोदीकोरेलमंत्रीअश्विनीवैष्णवनेआजआश्वासनदियाकिग्रुप-डीकीदोकीबजायएकपरीक्षाहोगीऔरएनटीपीसीकीपरीक्षाके3.5लाखअतिरिक्तपरिणाम‘‘वनकैंडीडेट-वनरिजल्ट’’केआधारपरघोषितकियेजाएंगे।सुशीलद्वाराजारीएकप्रेसविज्ञप्तिकेअनुसाररेलमंत्रीनेउनकोभरोसादिलायाकिसरकारछात्रोंसेसहमतहैऔरउनकीमांगकेअनुरूपहीनिर्णयजल्दकियाजाएगा।बिहारमेंसत्ताधारीहिंदुस्तानीअवाममोर्चाकेप्रमुखऔरपूर्वमुख्यमंत्रीजीतनराममांझीनेट्वीटकरकहा,‘‘संविधानमेंहिंसाऔरतोडफोड़काअधिकारकिसीकोनहीं।वैसेअबवक्तआगयाहैजबसरकाररोजगारकेविषयमेंबातकरे,नहींतोहालातइससेभीभयानकहोसकतेहैं।’’