आंगनबाड़ी कार्यकताओं में रोष

जागरणसंवाददाता,कठुआ:स्थायीकरनेकीमांगकोलेकरकामछोड़हड़तालपरबैठीआंगनबाड़ीकार्यकताओंकीकोईनहींसुनरहाहै।प्रतिदिनशहरकेड्रीमलैंडपार्कमेंधरनादेकरघरोंकोलौटजातीहैं।दूसरेदिनफिरधरनादेकरदिनभरअपनीमांगोंकोलेकरनारेबाजीकरतीहैं,लेकिनउनकीमांगोंपरकोईगौरनहींकररहाहैजिससेउनमेंरोषहै।

आंगनबाड़ीवर्कर्सएवंहेल्पर्सएसोसिएशनकेबैनरतलेप्रदर्शनकररहीरेनुकानेकहाकिलगताहैइसराज्यमेंउनकीकोईसुननेवालानहींहै।पहलेतोसरकारथी,लेकिनअबराज्यपालशासनहैफिरभीउनकीकोईसुनवाईनहींहोरहीहै।महिलाओंकेहककोज्यादादेरतकनजरअंदाजनहींकियाजासकता।उनकीमुख्यमांगवेतन10हजाररुपयेऔरस्थायीकरनाहै।