आजादी के लिए युवाओं में जोश भरने कन्नौज आए थे नेताजी, युवाओं को हीरोज ऑफ कन्नौज का खिताब दिया

कन्नौज,जेएनएन।इत्रकीखुशबूसेमहकनेवालीकन्नौजकीधराकईस्वर्णिम पलोंकीगवाहहै।अतीतकेइनपलोंकोंयादकरहरकोईगौरवान्वितहोजाताहै।चाहेवोआजादीकेआंदोलनकेसमययहांमहात्मागांधीकाआनाहोयाफिरलालबहादुरशास्त्रीकादौरा।एकयादगारपलनेताजीसुभाषचंद्रबोसकेयहांआगमनकाभीहै।1940मेंउन्होंनेयहांआकरयुवाओंमेंजोशभरा।युवाओंकोहीरोजऑफकन्नौजनामसेनवाजा।

वर्ष1938मेंकांग्रेसअध्यक्षपदकेलिएहुएचुनावमेंनेताजीनेपट्टाभिसीतारमैयाकोहरायाथा।इसहारसेगांधीजीदुखीहुए।उन्होंनेयहकहदियाकिरमैयाकीहार,मेरीहारहै।इसपरनेताजीनेनसिर्फकांग्रेसकेअध्यक्षपदसेइस्तीफादियाबल्किकांग्रेसकोहीछोड़दियाथा।

इसकेबादउन्होंनेराजनीतिकदलफारवर्डब्लाककीस्थापनाकीऔरभारतभ्रमणपरनिकले।उनकीइसयात्राकागवाहकन्नौजभीबना।1940मेंवहकन्नौजआए।इतिहासकारबतातेहैंकिनेताजीकेकांग्रेसछोड़नेपरकांग्रेसीउनकेस्वागतकोतैयारनहींहुएथे।

इसपरकन्नौजकेयुवकोंनेआजादनवयुवकसंघनामकेसंस्थाकागठनकिया।इसमेंरामगोपालशुक्ला,जगदीशचंद्रदुबे,प्रकाशअग्निहोत्री,राधेश्यामतिवारीआदिलोगथे।नेताजीपहुंचेतोइनसभीनेउनकाजोरदारस्वागतकिया।नेताजीकोमकरंदनगरस्थितजीआइसीहवेलीमेंठहरायागयाथा।

फूलमतीदेवीमंदिरकेपरिसरमेंउन्होंनेसभाकी।उन्होंनेराष्ट्रहितकोसर्वाेपरिबताया।सभामेंउन्हेंंसुननेकेलिएहजारोंलोगपहुंचेथे।मंचसेहीनेताजीनेआजादनवयुवकसंघकेयुवाओंहीरोजऑफकन्नौजकानामदिया।बतातेहैंकिइसीसेप्रेरणालेकरउन्होंनेआजादहिंदफौजबनाईथी।